रामनगर बार्डर पर पर्यटकों की शुरू हो गई कोविड जांच, पर्यटकों के नाम और पते भी हो रहे दर्ज

महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में कोरोना के बढ़ते केस व लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही को देखते हुए अब रामनगर की सीमा हल्दुआ में स्वास्थ्य विभाग ने महाराष्ट्र गुजरात दिल्ली पंजाब मध्यप्रदेश से आने वाले पर्यटकों का कोविड टेस्ट शुरू कर दिया है।

रामनगर| देश में फिर से कोरोना के मामले फिर से बढऩे लगे हैं। इसे देखते हुए अन्य राज्यों से रामनगर आने वाले पर्यटकों कोविड टेस्ट कराना होगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने रामनगर की सीमा पर रैंडम टेस्टिंग शुरू कर दी है। शनिवार को 25 लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए।

महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में कोरोना के बढ़ते केस व लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही को देखते हुए उत्तराखंड सरकार गंभीर हो गई है। अब शासन के दिशा निर्देश पर रामनगर की सीमा हल्दुआ में स्वास्थ्य विभाग ने महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, पंजाब, मध्यप्रदेश से आने वाले पर्यटकों का कोविड टेस्ट शुरू कर दिया है। कोविड के नोडल अधिकारी प्रशांत कौशिक ने बताया कि बाहर से आने वाले पर्यटकों की रैंडम जांच के लिए एक टीम लगाई गई है। पर्यटकों के नाम, पते व वाहन नंबर भी दर्ज किए जा रहे हैं। उनके सैंपल आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा।

कार्बेट पार्क होने से क्षेत्र में बाहरी राज्यों से पर्यटक पहुंचते हैं। ऐसे मेें कोविड जांच होने से पर्यटन पर भी इसका असर पडऩा तय है। क्योंकि जांच में कोरोना पॉजिटिव आने के डर से पर्यटक इधर आने से बचेंगे। इसका असर पार्क की बुकिंग पर भी पड़ सकता है। हालांकि सीटीआर के निदेशक राहुल का कहना है कि सरकार की जो भी गाइडलाइन होगी, उसे लागू किया जाएगा।